ATM Card के बारे में जानें ये 10 बातें, कभी नहीं होगा नुकसान!

आज दुनिया के हर कोने में पैसों की लेन देन के लिए एटीएम का भरपूर (Use of ATM) इस्तेमाल होता है। इसकी मदद से आप कहीं भी, कभी भी पैसे निकाल सकते हैं या एक बैंक खाते से दूसरे में भेज सकते हैं।आइये जानते हैं इसके बारे में खास बातें -

What is the full form of an ATM?

एटीएम का फुल फॉर्म Automated Teller Machine है, जिसे हिन्दी में स्वचालित गणक मशीन कहा जाता है। इस मशीन को ऑटोमेटिक बैंकिंग मशीन, कैश प्वाइंट, बैंकोमैट जैसे नामों से भी जाना जाता है। 

What is an ATM? 

एटीएम (ATM) एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन है, जिसका उपयोग सिर्फ बैंक ग्राहकों द्वारा किया जाता है। इसके तहत एटीएम उपयोगकर्ताओं को अपने अकाउंट से लेन देन करने के लिए एक खास प्लास्टिक का कार्ड उपलब्ध कराया जाता है। इस कार्ड में उपयोगकर्ताओं के बैंक से संबंंधित जानकारियां, उसके पिछले हिस्से में एक मैग्नेटिक स्ट्रिप पर इनकोडेड होती है।

Who invented the ATM?

एटीएम (ATM) का आविष्कार लूथर जॉर्ज सिमियन नाम के एक अमरिकी व्यक्ति ने 1939 में किया था। वहीं, इसके पेटेंट को हासिल करने के लिए 1960 में आवेदन दाखिल किया गया था।

When Was ATM started in India?

भारत में एटीएम की शुरुआत साल 1987 में हुई थी। इस एटीएम को मुंबई में एचएसबीसी बैंक की शाखा में लगाया गया था।

How to block SBI ATM card?

How to block SBI ATM card?

यदि आपके पास एसबीआई का एटीएम कार्ड (SBI ATM Card) है और यह गलती से कहीं खो गया है, तो इससे आपके खाते में मौजूद रकम के लिए बड़ा खतरा है। ऐसे स्थिति में आपको अपने एटीएम कार्ड को तुरंत ब्लॉक करवाने की जरूरत है।

कार्ड खोने की स्थिति में आप सबसे पहले अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर से 1800 112 211 या 1800 425 380 पर फोन करें और अपना कार्ड ब्लॉक करवाने के लिए 0 प्रेस करें। इसके बाद 1 दबाएं और अपने एटीएम कार्ड (ATM Card) के अंतिम 5 डिजिट को टाइप करें। इन जानकारियों को कंफर्म करने के लिए फिर से 1 प्रेस करें। इसके साथ ही आप एटीएम कार्ड तुरंत ब्लॉक हो जाएगा और आपको अपने मोबाइल पर एक मैसेज भी आएगा। 

याद रखें कि आज एटीएम हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसलिए इससे संबंधित जानकारियों को हमेशा अपने पास रखें। यदि इसे ब्लॉक करने में आपको परेशानी आ रही है, तो आप सीधे कस्टमर केयर से बात कर, अपनी जानकारी साझा करें और वे आपका कार्ड तुरंत ब्लॉक कर दें। अन्य बैंकों के एटीएम कार्ड के लिए भी यही प्रक्रिया है।

How to generate an SBI ATM pin?

How to generate an SBI ATM pin

एसबीआई (SBI) अपने सभी ग्राहकों को अपना एटीएम पिन (ATM Pin) खुद से सेट करने या बदलने की सुविधा प्रदान करता है। यह पिन 4 अंकों का होता है, जो लोगों को किसी भी फ्रॉड से बचाने में मदद करता है। इसलिए इसे गलती से भी किसी दूसरे से साझा न करें। इस पिन को आप एटीएम मशीन, एसएमएस या एसबीआई नेट बैंकिंग के जरिए जनरेट कर सकते हैं। बता दें कि एसबीआई ने इस प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए ‘ग्रीन पिन’ की सुविधा को भी शुरू किया है।

Method 1: Using SBI ATM

आइये जानते हैं पिन को एटीएम के जरिए जनरेट करने का तरीका - 

  1. एसबीआई एटीएम पिन (SBI ATM Pin) जनरेट करने के लिए अपने नजदीकी एसबीआई एटीएम (SBI ATM near me) जाएं।
  2. स्क्रीन पर पिन के विकल्प का चयन करें।
  3. फिर, अपना अकाउंट नंबर दर्ज करें।
  4. इसके बाद आपको स्क्रीन पर ग्रीन सिग्नल मिलेगा और पिन कंफर्मेशन का मिसैज दिखेगा।
  5. आगे, आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी (OTP) प्राप्त होगा, 2 दिनों तक मान्य रहता है।
  6. इस तरह, आप 2 दिनों के भीतर पिन जनरेट का विकल्प चुन सकते हैं।

आप दूसरे बैंकों के एटीएम के लिए भी यही तरीका अपना सकते हैं।

How to change SBI ATM pin?

अपना पिन बदलने के लिए सबसे पहले अपने नजदीकी एसबीआई एटीएम (SBI ATM) पर जाएं और मशीन में अपना कार्ड डालें। इसके बाद आपको अपना पिन डालने का विकल्प मिलेगा और यहाँ अपना वर्तमान पिन डालें। फिर, बैंकिंग के विकल्प को चुनें। इसके बाद आपको स्क्रीन पर पिन बदलने का विकल्प भी दिखेगा। पिन चेंज (Change ATM Pin) के विकल्प को चुनने के बाद आपको फिर से मौजूदा पिन माँगा जाएगा और इसके बाद आप अपना नया पिन जनरेट (Generate ATM Pin) कर सकते हैं। नया पिन सेट होने के बाद, आपको स्क्रीन पर इसका कंफर्मेशन भी दिखेगा। आप दूसरे बैंकों के पिन को चेंज करने के लिए भी यही प्रक्रिया अपना सकते हैं।

वहीं, यदि आप घर बैठे पिन बदलना चाहते हैं, तो आप नेट बैंकिंग (Net Banking) के जरिए इसे आसानी से कर सकते हैं। इसके लिए आपको ई-सर्विस सेगमेंट में जाकर सभी प्रक्रियाओं का पालन करना होगा।

Follow the below steps Using Net Banking

Step 1: Login SBI Net Banking

Step 2: Go on Card Option

Step 3: Change Your I PIN

Step 4: Enter your current PIN or default PIN mentioned on your ATM secrete code

Step 5: Very OTP on registered mobile number

Step 6: Successfully, your SBI ATM Pin has been changed.

How to withdraw money from an ATM?

एटीएम से पैसा निकालना (Withdraw money from an ATM) आज भी कई लोगों के लिए परेशानी का सबब है। आइये जानते हैं इसका तरीका -

  1. सबसे पहले एटीएम में अपना कार्ड डालें। यदि इससे कार्ड नहीं निकल रहा है, तो आपको परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है। कई एटीएम में पैसे निकलने के बाद ही कार्ड निकलते हैं।
  1. फिर, आपके सामने कई विकल्प आएंगे। लेकिन आप बैंकिंग पर क्लिक करें। 
  1. फिर अपनी पसंदीदा भाषा चुनें। कई एटीएम में इसके बाद आपको 10 से लेकर 99 तक के किसी भी अंक को डालने के लिए कहा जाता है।
  1. फिर अपने चार अंकों का पिन डालें।
  2. पिन डालने के बाद आपके सामने बैंक बैलेंस, मिनी स्टेटमेंट, कैश निकालने जैसे कई विकल्प होंगे। आप पैसे निकालने के लिए Cash Withdrawal के विकल्प को चुनें। 
  1. इसके बाद आपके सामने From Current और From Saving का विकल्प होगा।
  1. यह चुनने के बाद आप जितने भी पैसे निकालना चाहते हैं, उसे भरें और Yes पर क्लिक कर दें।
  1. फिर, कुछ ही सेकेंड में आपके पैसे निकल जाते हैं।
  1. पैसे लेने के बाद, आपको स्क्रीन पर दिखेगा कि आप अपनी बकाया राशि जानना चाहते हैं या नहीं। यदि आप जानना चाहते हैं, तो Yes पर क्लिक करें, नहीं तो No पर।
  1. यदि आपका कार्ड अभी भी एटीएम में ही है, तो अब उसे निकाल लें और इसके Cancel बटन जरूर दबायें ताकि आपका लेनदेन पूरा हो सके।

How to insert an ATM card?

बता दें कि किसी भी एटीएम मशीन से पैसे निकालने के लिए सबसे पहला कदम उसमें कार्ड को इंसर्ट करना है। ध्यान रहे कि आप एटीएम कार्ड को मशीन में हमेशा सीधा डालें। उल्टा डालने पर आपको मशीन उसे रीड नहीं कर पाएगी और स्क्रीन पर आपको दोबारा डालने का मैसेज आएगा।

How to activate SBI ATM?

यदि आपका बैंक खाता एसबीआई में है और आप अपना एटीएम कार्ड एक्टिवेट करना चाहते हैं, तो उसके लिए इन चरणों का पालन करें -

  1. सबसे पहले एसबीआई की आधिकारिक वेबसाइट www.onlinesbi.com पर जाएं। 
  1. फिर, 'e-Services' सेक्शन में 'ATM Card Services' विकल्प को चुनें। 
  1. अब यहाँ आपको एक नया सेक्शन दिखेगा। जिस खाते के लिए एटीएम कार्ड जारी किया गया है, उसे चुनें। 
  1. फिर, अपने 16 अंकों का एटीएम कार्ड नंबर डालें और 'Activate' विकल्प पर क्लिक करें। 
  1. फिर खाते के प्रकार और ब्रांच आदि जैसे कुछ जरूरी जानकारियों की पुष्टि करें।
  1. इसके बाद आपको बैंक की ओर से आपके पंजीकृत नंबर पर एक हाई सिक्योरिटी पासवर्ड मिलेगा। इस पासवर्ड को भरने के बाद कन्फर्म बटन पर क्लिक करें।
  2. इसके बाद आपका एटीएम कार्ड एक्टिव हो जाएगा और आपको इसका एक कंफर्मेशन मैसेज भी आएगा।

वहीं, आप अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर से बैंक द्वारा जारी नंबर पर एटीएम कार्ड डीटेल को मैसेज कर भी आप इसे एक्टिवेट कर सकते हैं।        

कैसे शुरू करें ATM Business?

किसी भी बैंक के एटीएम की फ्रेंचाइजी (How to start ATM Business) लेने के लिए आपके पास कम से कम 50 से 10 वर्ग फीट की जगह होनी चाहिए और कोई दूसरा एटीएम करीब 100 फीट दूर होना चाहिए।

इस दौरान ध्यान रखने वाली बात यह है कि यह जगह सिर्फ ग्राउंड फ्लोर पर होनी चाहिए और ऐसी जगह पर होनी चाहिए, जहाँ उसे दूर से भी देखा जा सके और करीब 1 लाख लोगों की भीड़ हो।

बता दें कि एटीएम में हर दिन लगभग 300 ट्रांजैक्‍शन की क्षमता होनी जरूरी है और इसकी छत पक्की होनी चाहिए। इसके लिए आपको एनओसी लेना भी अनिवार्य है।

क्या लगते हैं कागजात? (Eligibility Criteria)

यदि आप एटीएम लगाने के लिए आवेदन करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको Aadhaar Card , Pan Card , Voter Card, राशन कार्ड, इलेक्ट्रिसिटी बिल,  बैंक अकाउंट और पासबुक, फोटोग्राफ, जीएसटी नंबर जैसे कई कागजात जमा करने होंगे।

बता दें कि आज अधिकांश बैकों के एटीएम को लगाने की जिम्मेदारी किसी एजेंसी को दी जाती है। इस श्रेणी में Tata Indicash, Muthoot ATM और India One ATM जैसी कंपनियों का नाम अग्रणी है।

कितनी होती है कमाई?

एटीएम लगाने पर आपको हर ट्रांजैक्‍शन पर 2 रुपये से लेकर 10 रुपये तक कमाई आसानी से हो जाती है। इस तरह आप एटीएम लगा कर हर महीने 80 हजार से लेकर 1 लाख की कमाई आसानी से कर सकते हैं।

24 घंटे चाहिए बिजली

यदि आप अपने यहाँ एटीएम मशीन लगाना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको चौबीसों घंटे बिजली की उपलब्धता सुनिश्चित करनी होगी।चूंकि, आज देश के हर हिस्से में बिजली कटौती की समस्या आम है। इस वजह से आपको एटीएम के संचालन में कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में लोग बिजली के वैकल्पिक साधन के रूप में जनरेट का इस्तेमाल करते हैं।

लेकिन यह उनके लिए काफी महंगा साबित होता है। ऐसे में यदि आप 1 से 3 किलोवाट का सोलर सिस्टम (1kW to 3kW Power Backup Solution) ले लें, तो आप बिजली के मामले में पूरी तरह से आत्मनिर्भर हो जाएंगे और आपको वर्षों तक इसके बारे में सोचने की जरूरत नहीं पड़ेगी। 

बता दें कि 1 से 3 किलोवाट का सोलर पैनल खरीदने में आपको करीब 1 से 3 लाख रुपये तक का खर्च आएगा। बता दें कि आज भले ही एटीएम को चलाने के लिए सोलर सिस्टम का इस्तेमाल नहीं किया जा रहा हो, लेकिन आने वाले समय में यह अनिवार्यता बन जाएगी। इसमें कोई दो राय नहीं है।

नजदीकी ATMs की जानकरी कैसे जाने? (ATM Near Me)

यदि आप अपने पैसों के लेन-देन के लिए एटीएम जाना चाहते हैं, लेकिन आपको अपने नजदीकी एटीएम के बारे में जानकारी नहीं है, तो चिन्ता न करें। हम आपको इसके बारे में आपको पूरी जानकारी नीचे दिया गया है।

Find ATM Near Me here

निष्कर्ष

यदि आप अपने घर में एटीएम लगाने की योजना बना रहे हैं या आपको एटीएम चलाने में कोई परेशानी है, तो हमें यकीन है कि यह लेख आपके लिए काफी मददगार साबित होगा। यदि आप इस विषय में और अधिक जानकारी हासिल करना चाहते हैं, तो अभी हमसे संपर्क करें। हमारे विशेषज्ञ आपकी मदद के लिए चौबीसों घंटे तैयार रहते हैं।

Activate sbi atmAllahabad bank atmAtmAtm near meAxis bank atm near meBank of baroda atmBank of india atmBank of maharashtra atm near meBlock sbi atm cardCanara bank atm near meCentral bank of india atmChange atm pinChange sbi atm pinFederal bank atmFederal bank atm near meFull form of atmGenerate atm pinGenerate sbi atm pinHdfc bank atmIcici atm near meIndusind bank atmInsert atm cardKotak mahindra bank atmPunjab national bank atmSbi atm near meUco bank atm near meUnion bank of india atmYes bank atm

1 comment

Norat mal

Norat mal

Sir new atm card se first transaction same atm se hoga ya other atm se ho sakta hai.

Leave a comment

ഏറ്റവും കൂടുതൽ വിറ്റഴിക്കപ്പെടുന്ന ഉൽപ്പന്നങ്ങൾ