यूपी में सोलर पैनल लगवाने पर मिलेगा 94 हजार तक की सब्सिडी?

आज भारत समेत पूरी दुनिया में बिजली के वैकल्पिक साधन के रूप में सोलर सिस्टम (Solar System) की माँग काफी बढ़ गई है और आने वाले कुछ वर्षों में हमें इस क्षेत्र में और भी अधिक तेजी देखने के लिए मिलेगी। आज कई लोग अपने घर में सोलर सिस्टम लगा कर, खुद को बिजली के मामले में आत्मनिर्भर बनाना चाहते हैं। लेकिन कई बार उनके लिए इतने पैसे जुटाना आसान नहीं होता है।

इस लेख में हम आपको रूफटॉप सोलर खरीदने के लिए सोलर सब्सिडी (Solar Subsidy) के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसका लाभ उठा कर आप सोलर एनर्जी (Solar Energy) की ओर आसानी से शिफ्ट कर सकते हैं।बता दें कि यदि आप अपने घर में सोलर सिस्टम लगाने के लिए सोलर सब्सिडी (Solar Subsidy) का लाभ उठाना चाहते हैं, तो इसके लिए कई हितधारक हैं, जिनके बारे में आपको जानना जरूरी है।

कैसे और कितने मिलेगी सब्सिडी?

बता दें कि आपको सोलर सब्सिडी (Solar Subsidy) प्रति किलो वाट सोलर सिस्टम के हिसाब से मिलती है। पहले आपको कुल खर्च के 20% या 40% के हिसाब से मिलता था लेकिन अब इस सिस्टम को बदल दिया गया है। 

बता दें कि यदि आप सोलर सब्सिडी (Solar Subsidy) का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपको 1 किलो वाट तक के सोलर सिस्टम के लिए प्रति किलो वाट 14,588 रुपये की दर से सब्सिडी मिलती है और उससे अधिक क्षमता के सोलर सिस्टम पर आपको प्रति किलो वाट 7,294 रुपये की दर से सब्सिडी मिलती है।वहीं, 10 किलो वाट के सोलर सिस्टम पर आपको 94822 रुपये की सब्सिडी मिलती है। यदि आप इससे अधिक क्षमता का सोलर सिस्टम लेते हैं, तो इसके लिए कोई सब्सिडी नहीं है।

Rooftop Solar System Capacity

(Lowest of total solar module capacity or solar inverter capacity / capacity by DISCOM)

Applicable Subsidy
2.5 kW

Rs. 14,588/- X 2.5

= Rs. 36,470/-

3 kW

Rs. 14,588/- X 3

= Rs. 43,764/-

4 kW

Rs. 14,588/- X 3 + Rs. 7294/- X 1

= Rs. 51,058/-

6.5 kW

Rs. 14588/- X 3 + Rs. 7294/- X 3.5

= Rs. 69,293/-

10 kW Rs. 94,822/-
15 kW
Rs. 94,822/-

कहाँ से करें Solar Subsidy Apply?

सरकार द्वारा सोलर सब्सिडी का लाभ उठाने के लिए आपको Nation Rooftop Solar Portal के आधिकारिक वेबसाइट https://solarrooftop.gov.in/ पर जाना होगा। यहाँ आवेदन करने के लिए आपको अपने Electricity Bill के साथ अन्य जरूरी जानकारियों को भरना होगा।बता दें कि एक बार Report Submit करने के बाद, आपका Feasibility Report आएगा कि DISCOM ने आपको सोलर सब्सिडी का लाभ लेने के लिए Authorise कर दिया है।इसके बाद, आप अपने अनुसार Solar Installer का चयन कर सकते हैं। एक बार यह तय हो जाने के बाद, आपका इंस्टालर के साथ एक एग्रीमेंट पूरा होगा और वे आपके यहाँ सोलर सिस्टम इंस्टॉल कर देंगे।

एक बार, आपके यहाँ सोलर सिस्टम लगने के बाद, इंस्टालर द्वारा Solar Installation Report भेजी जाएगी और आपको उसी में बैंक डिटेल्स वगैरह भेजने होंगे।फिर, आगे आपके यहाँ नेट मीटर लगने के बाद Subsidy Amount आपको 30 से 60 दिनों के अंदर भेज दिया जाएगा।

क्या है ध्यान रखने वाली बात

आज के समय में भारत के अधिकांश घरों में सामान्य रूप से 1 किलो वाट बिजली की जरूरत होती है। ऐसे में, यदि आप सब्सिडी के लिए आवेदन करते हैं, तो हो सकता है कि आपका Feasibility Report अप्रूव न हो।ऐसे में, आपको अपने बिजली की खपत को 1 किलो वाट से बढ़ा कर करीब 3 किलो वाट करना होगा। 

Solar Installer के लिए क्या करना होगा?

यदि आप एक सोलर इंस्टालर हैं, तो आपके लिए यह जानना जरूरी है कि कौन सा सोलर इंस्टालर Subsidy में काम करने के लिए Eligible होगा।तो, जिस इंस्टालर का नाम DISCOM के वेबसाइट पर उपलब्ध है, वही ग्राहकों को यह सुविधा प्रदान कर सकते हैं। बता दें कि यहाँ आपको Authorisation में लगभग 2.5 लाख रुपये लगते हैं और इसका रजिस्ट्रेशन आपके DISCOM के हेड ऑफिस से ही होता है।बता दें कि यह वो कंपनी है, जो आपको घरों तक बिजली पहुँचाने का काम करती है। बता दें कि आज के समय में भारत में डिस्कॉम की संख्या करीब 96 है। 

Manufacturer की भूमिका

बता दें कि किसी भी सोलर सिस्टम के लिए 3 Major Components होते हैं - Solar Panel, Inverter And Balancing of System।सोलर सब्सिडी स्कीम का लाभ उठाने के लिए सोलर पैनल DCR Module का होना चाहिए और ALM में उस मोड्यूल की लिस्टिंग होनी चाहिए।वहीं, Inverter, DC Wire, Panel Stand जैसी चीजें BIS Certified (Bureau of Indian Standards) होनी चाहिए। 

Solar Loan की सुबिधा उपलब्ध

बता दें कि आपकी Loan Provider Company, Banking है या Non Banking, आप कुल खर्च का 20 से 30 प्रतिशत तक डाउन पेमेंट करके अपना लोन आसानी से अप्रूव करा सकते हैं।बता दें कि आपको सोलर सब्सिडी का लाभ उठाने के लिए ITR Proof, Address Proof, Electricity Bill Proof जैसे कागजातों की जरूरत पड़ेगी। यहाँ आप 5 साल तक के लिए लोन का अप्रूवल ले सकते हैं। वहीं, सरकार द्वारा सोलर सब्सिडी स्कीम को साल 2025 तक के लिए बढ़ा दिया गया है।

कहाँ से मिलेगी पूरी जानकरी?

अब तक तो आप समझ गए होंगे कि आपको सोलर सब्सिडी (Solar Subsidy) का लाभ उठाने के लिए किन प्रक्रियाओं से गुजरना होगा। यदि आप इतनी लंबी प्रक्रिया में नहीं पड़ना चाहते हैं, तो Loom Solar आपकी मदद के लिए पूरी तरह से तैयार है। आपको बस https://www.loomsolar.com/ पर विजिट करते हुए, एक इंजीनियर विजिट बुक करना होगा। हमारे इंजीनियर आपके यहाँ जाएंगे और आपकी जरूरतों को समझते हुए, आपके यहाँ सोलर सिस्टम लगवाने से संबंधित पूरा काम कर देंगे। बता दें कि आप इंजीनियर विजिट के लिए मात्र 1000 रुपये फीस के रूप में देनी होगी। तो जल्द करें।

How to apply for solar subsidyHow to take solar subsidyMajor stakeholders in solar system installationSolar energy in indiaSolar loan in indiaSolar subsidySolar subsidy in indiaTop solar company in indiaभारत की टॉप सोलर कंपनीभारत में सोलर लोनभारत में सोलर सब्सिडीसोलर सब्सिडी के लिए आवेदन कैसे करें

1 comment

Prashant Maurya

Prashant Maurya

Project Developer / Vendor Details
Name of Vendor * :
in UP solar registration what name of vendor

Leave a comment

Top selling products

Loom Solar Engineer VisitEngineer Visit
Loom Solar Engineer Visit 25 reviews
Sale priceRs. 1,000 Regular priceRs. 2,000
Reviews
Dealer RegistrationLoom Solar Dealer Registration
Loom Solar Dealer Registration 265 reviews
Sale priceRs. 1,000 Regular priceRs. 5,000
Reviews