कम Interest Rate पर मिलेगा  Solar Loan, जाने कैसे?

आज पूरे देश में भारी बिजली किल्लत को देखते हुए, सोलर सिस्टम की माँग (Solar System Demand In India) काफी बढ़ गई है। इसी बढ़ती माँग को देखते हुए आज कई बैंकों ने लोगों को सोलर लोन (Solar Loan) देने की सुविधा को शुरू कर दिया है, जिसका लाभ उठा कर आप आसानी से अपने घर में सोलर सिस्टम लगा सकते हैं।अन्नपूर्णा फाइनेंस प्राइवेट लिमिटेड (Annapurna Finance Pvt. Ltd) ऐसी ही एक कंपनी है, जो लोगों को सोलर लोन की सुविधा देती है। आइये जानते हैं, इसके बारे में खास बातें - 

क्या है अन्नपूर्णा फाइनेंस प्राइवेट लिमिटेड? (What is Annapurna Finance Private Limited)

अन्नपूर्णा फाइनेंस प्राइवेट लिमिटेड का मुख्यालय ओडिशा के भुवनेश्वर में है। यह कंपनी देश के छोटे उद्यमियों को लोन की सुविधा देती है, ताकि उनकी राह काफी आसान हो जाए। इस कंपनी की शुरुआत 2009 में हुई थी और यह फिलहाल  NBFC-MFIs के मामले में देश की टॉप 10 कंपनियों में से एक है।इस कंपनी ने अब लोगों को सोलर लोन (Solar Loan) देने की सुविधा को भी शुरू किया है।

सोलर लोन की विशेषताएं और लाभ क्या क्या है? (What Are The Features & Benefits of Solar Loan)

सोलर लोन से आपके लिए अपने घर में सोलर सिस्टम (Solar system for Home & Business) खरीदना काफी आसान हो जाता है। बता दें कि आज आपको प्रति किलो वाट सोलर सिस्टम को लगाने में 60 हजार से 1 लाख तक का खर्च आसानी से आता है। इस लिहाज से कई लोगों के लिए यह काफी भारी निवेश लग सकता है और अपने यहाँ सोलर सिस्टम लगाने की इच्छा होने के बावजूद, उन्हें इसमें काफी परेशानी हो सकती है। लेकिन यदि उन्हें आसानी से सोलर लोन मिल जाए, तो उनके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है।

बता दें कि आज अपने घर में सोलर सिस्टम लगाने से आपको हर महीने आने वाले बिजली बिल से राहत मिलने के साथ ही, बिजली की निर्बाध सुविधा भी सुनिश्चित होती है और यदि आप कोई बिजनेस चलाते हैं, तो इससे आपको अपने बिजनेस को नये आयाम तक ले जाने में और भी अधिक मदद मिल सकती है।

MSME’s का कितना है दायरा?

आज भारत में 6.3 करोड़ से भी अधिक एमएसएमई (MSME) हैं, जिन्हें भारतीय अर्थव्यवस्था का रीढ़ माना जाता है। बता दें कि आज देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में इस क्षेत्र का करीब 30% योगदान है और इससे 11 करोड़ से भी अधिक लोगों को आजीविका का बेहतर साधन मिलता है।

आज देश में करीब 51% एमएसएमई ग्रामीण क्षेत्रों में है, जहाँ देश की आधी से ज्यादा आबादी भी रहती है। बता दें कि इस क्षेत्र में 1 करोड़ से 5 करोड़ तक के बिजनेस को सूक्ष्म उद्योग, 50 करोड़ की टर्न ओवर वाली कंपनी को लघु उद्योग और 250 करोड़ टर्न ओवर वाली कंपनी को मध्यम उद्योग माना जाता है।

Level Investment Turn Over (Yearly) Tax
Small 1 Cr. 5 Cr. 10%
Medium 10 Cr. 50 Cr. 12%
Medium 50 Cr. 250 Cr. 12%
Large >50 Cr. > 250 Cr. 30%

 

बिजनेस को कैसे मिलेगा फायदा?

आंकड़ों के अनुसार, आज MSME’s में 25 फीसदी से लेकर 40 फीसदी तक खर्च बिजली पर आता है और इसमें Raw Material की हिस्सादारी नहीं होती है। इससे समझा जा सकता है कि यदि कोई बिजनेस अपनी बिजली की जरूरतों को पूरा करने के लिए सोसर सिस्टम का इस्तेमाल करे, तो उन्हें अपने फायदे को बढ़ाने में कितना मदद मिल सकता है। साथ ही, इससे Global Warming संबंधित चुनौतियों से भी लड़ने में काफी मदद मिलेगी।

इन्हीं मुद्दों को देखते हुए अन्नपूर्णा फाइनेंस प्राइवेट लिमिटेड (Annapurna Finance Pvt. Ltd) ने लोगों के लिए सोलर लोन (Solar Loan) की सुविधा को शुरू किया है।

Eligibility Criteria and Documents Required

यह बैंक फिलहाल पूरे भारत में काम नहीं करती है। यदि आप ओडिशा, बिहार, या तमिलनाडु जैसे राज्य से हैं, तो यह आपके लिए काफी आसान है।इस लोन को हासिल करने के लिए आपको अपने बिजनेस डीटेल्स, पैन कार्ड, जीएसटी, बैंक अकाउंट नंबर, आदि जैसे कागजातों की जरूरत पड़ेगी।

हालांकि, इस बैंक ने अभी तक यह स्पष्ट नहीं किया है कि इस लोन की सुविधा On Grid Solar System के लिए मिलेगी या Off Grid Solar System के लिए। हालांकि, आज अधिकांश बैंक On Grid Solar System के लिए लोन देते हैं।

Know Solar Loan Eligbility Criteria & Documents 

(आय कर में भी होगी बचत) Income Tax Benefits on Solar Loans Taken to Install Rooftop Solar

यदि आप सोलर लोन लेते हैं, तो आपको अपनी जीएसटी भरते समय पहले साल 40 फीसदी तक टैक्स में भी छूट मिलती है और इसका फायदा आप अगले 3 वर्षों तक आसानी से उठा सकते हैं।

क्या होता है सुरक्षित ऋण बनाम असुरक्षित ऋण? (What are Secured Loan vs Unsecured Loan) 

बता दें कि यदि आप बैंक से सुरक्षित ऋण लेना चाहते हैं, तो आपको सुरक्षा के तौर पर अपनी घर, जमीन या कार आदि जैसी संपत्ति को दिखानी पड़ती है। वहीं, असुरक्षित ऋण के लिए आपको किसी सुरक्षा की जरूरत नहीं होती है। यही कारण है कि इसमें ब्याज दर अधिक होता है।

सोलर लोन पर कितना लगेगा ब्याज? (How much is the interest rate of the AFPL Solar loan?)

यदि आप इस बैंक से सोलर लोन लेते हैं, तो आपको 10% से 12.5% तक ब्याज दर (Interest rate) लगेगा।

ईएमआई की गणना कैसे करें? (How to Calculate Solar Loan EMI?)

बता दें कि यह अन्य ईएमआई की आपने कितना लोन लिया है और इसे कितने समय के लिए लिया है, उसी बात पर निर्भर करता है। इसके लिए आप कई ऑनलाइन टूल्स (EMI Calculator) का इस्तेमाल कर सकते हैं।

निष्कर्ष

हमें विश्वास है कि यह लेख आपके लिए मददगार साबित होगा। यदि आप अपने घर में सोलर सिस्टम लगाना चाहते हैं और खुद को बिजली के मामले में आत्मनिर्भर बनाना चाहते हैं, तो अभी हमसे संपर्क करें। हमारे विशेषज्ञ आपकी मदद के लिए हमेशा ही तैयार रहते हैं।

Read Also in English: How to Get Rooftop Solar Loan from AFPL?

Leave a comment

সর্বাধিক বিক্রিত পণ্য

জনপ্রিয় পোস্ট

  1. Buying a Solar Panel?
  2. Top 10 Solar Companies in India, 2022
  3. This festive season, Power Your Home with Solar Solutions in Just Rs. 7000/- EMI!
  4. Top Lithium Battery Manufacturers in World, 2022
  5. How to Install Rooftop Solar Panel on Loan?