5 बातें जरुर जाने, सोलर पैनल स्टैंड खरीदने से पहले?

सोलर पॉवर प्लांट का एक मह्त्ब्पूर्ण उपकरण सोलर पैनल स्टैंड है। पैनल स्टैंड को मॉउंटिंग स्ट्रक्चर भी कहते है. सभी सोलर पैनल स्टैंड का चयन उतना ही मुस्किल है जितना सोलर पैनल का चुनाव करना होता है। सही सोलर पैनल स्टैंड लगाकर सोलर पैनल की लाइफ और परफॉरमेंस दोनों को बढाया जा सकता है।

जब आप सोलर पॉवर सिस्टम अपने घर, ऑफिस, दुकान, मेडिकल क्लिनिक, स्कूल, पेट्रोल पंप पर लगाने का प्लांन कर रहें हैं तो आपको लगभग 10 से 15% का इन्वेस्टमेंट सोलर पैनल स्टैंड और इसके इंस्टालेशन उपकरण पर करना पड़ता है।

सोलर पैनल स्टैंड की जरुरत 

इंडिया में लगभग 20 सोलर कंपनी है जो Small और Large स्केल सोलर प्रोजेक्ट्स में काम कर रही है. सोलर पैनल स्टैंड की खपत ज्यादा गवर्मेंट सोलर टेंडर प्रोजेक्ट्स और पर्सनल सोलर इंस्टालेशन में किया जा रहा है लेकिन यह प्रोडक्ट लोकल एरिया में बनबाया जाता है.

आगरा के सोलर विक्रेता ममता कुशवाहा के अनुसार उनका कहना है कि बड़े सोलर प्रोजेक्टस के लिए सोलर इंस्टालर लोकल एरिया में ही आवस्यकता अनुसार स्टैंड बनबा लेते है, लेकिन जब वो दो और तीन सोलर पैनल के लिए स्टैंड खरीदते हैं तो हमारे यहाँ से ही लेते हैं। क्यूंकि स्माल रेंज के लिए लोकल एरिया में स्टैंड बनवाना मंहगा पड़ता है। सोलर इंस्टालर को सोलर पैनल स्टैंड में सबसे बड़ी परेशानी इसके होल मैच नहीं करने की आता है, जिससे वो सोलर पैनल के फ्रेम में होल करके काम चलाते हैं।

 

ये सोलर पैनल स्टैंड बाइंग गाइड मार्केट सर्वे के अनुसार बनाई गई है। जिससे सोलर पैनल स्टैंड का चुनाव करना आसान हो जायेगा।

1. इंस्टालेशन एरिया का चयन

अनुसार किया जाता है, ज्यादातर सोलर पैनल का इंस्टालेशन घरों की  छत, पानी के टैंक के ऊपर, टिन शेड, दिवाल पर किया जाता है। इसी के अनुसार मार्केट में Rooftop Solar Panel Stand, High Rise Panel Stand, Tin Shed, Wall Mounted Panel Stand उपलब्ध हैं।

2. किस कंपनी का सोलर पैनल लगाना है?

सोलर पैनल स्टैंड का चयन इंस्टालेशन एरिया के इंडिया के घरों, हॉस्पिटल, स्कूल, फैक्ट्री पर सबसे ज्यादा लूम सोलर, विक्रम सोलर, वारी सोलर, Luminous, UTL, LivGuard सोलर पैनल कंपनी के प्रोडक्ट लग रहे हैं । जिस सोलर पैनल का Mounting Hole 1170mm (+/- 5mm) है, उस कंपनी का सोलर पैनल लूम सोलर के पैनल स्टैंड पर लग जायेगा । 

3. इंस्टालेशन लोकेशन का एंगल

इंडिया में North से South और East से West तक का Latitude एंगल अलग अलग होता है । लूम सोलर का 2 पैनल वाला स्टैंड जो 24V के लिए बनाया गया है और जो 15 डिग्री से लेकर 30 डिग्री तक सेट हो जाता है ।

 

Case 1: जब पैनल स्टैंड चैनल को दोनों बाहर के होल पर लगायें तो यह 15 डिग्री पर ही सेट होगा,

 

Case 2: जब पैनल स्टैंड चैनल को एक अंदर और एक बाहर की तरफ रखेंगे तो यह 20 डिग्री पर सेट होगा

 

Case 3: जब दोनों अंदर की तरफ होल पर टाइट करेंगे, तो यह 25 डिग्री पर सेट होगा

 

नोट: यदि इंस्टालेशन एरिया का Latitude एंगल +/-5 डिग्री है तो ही यह पैनल स्टैंड सही परफॉरमेंस देगा.

4. पैनल स्टैंड का इंस्टालेशन

जब सोलर पैनल स्टैंड का चयन कर लेते हैं तब इसको इनस्टॉल करने के लिए सोलर इंस्टालर की मदद की जरुरत होती है, यदि आप अपने घर पर 1 किलो वाट तक का सोलर सिस्टम लगा रहें हैं तो लोकल इलेक्ट्रीशियन की मदद से इसे इनस्टॉल कर सकते हैं। लूम सोलर पैनल स्टैंड के यूजर मैन्युअल में इंस्टालेशन स्टेप्स दिया हुवे हैं।

5. RCC वर्क्स

कई लोग जानना चाहते है कि सोलर सिस्टम लगाने का सही समय कौन सा है ? November से March तक का समय सोलर पैनल लगाने का सही समय माना गया है। इस समय में लगने वाले सोलर सिस्टम पूरी अच्छी तरह इनस्टॉल होते हैं। May – June महीनो में ज्यादा धुप होने के कारण सोलर इंस्टालेशन में काफी मुश्किलें आती हैं। जब सोलर पैनल का परफॉरमेंस पूरी तरह चेक करने के बाद उसको permanently फिक्स करें।

 

इस विडियो में 24V के दो सोलर पैनल 2 पैनल स्टैंड पर लगाकर दिखाए गए हैं।  

 

निष्कर्ष

अब घर के लिए सही सोलर पैनल स्टैंड का चयन करना काफी आसान हो गया है। लूम सोलर जो सोलर पैनल स्टैंड मैनुफक्चरिंग कंपनी है, यह कंपनी 125W पैनल से लेकर 10 किलो वाट तक का सोलर पैनल स्टैंड बनाती है। कंपनी द्वारा सोलर पैनल स्टैंड का यूजर मैन्युअल और विडियो बनाया हुआ है जो इंस्टालेशन करते समय आपको सहायक होगा।

Leave a comment

ਸਭ ਤੋਂ ਵੱਧ ਵਿਕਣ ਵਾਲੇ ਉਤਪਾਦ

Available near you