Solar Trolley से हजारों बचत के साथ बेहतरीन कमाई भी, जानिए कैसे?

आज के समय में Solar Trolley (सोलर ट्रॉली) खेती के क्षेत्र में एक बेहद की Innovative Idea है। यह किसानों के लिए एक ऐसा समाधान है, जिससे उनके लिए खेतों की सिंचाई बेहद ही आसान हो सकती है। आज के समय में देश की आधी से भी अधिक आबादी किसी न किसी तरह से खेती कार्यों से जुड़ी हुई है और वे अपने फसलों की सिंचाई के लिए मोटोर पर निर्भर हैं। लेकिन यहाँ उनकी सबसे बड़ी समस्या यह है कि आज देश के हर में बिजली नहीं है और अगर है भी तो 3 Phase electricity नहीं है, जिस वजह से उन्हें अपने फसलों को उगाने में कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में किसानों के साथ ही, Industry Experts के लिए भी मोटोर के Fundamental चीजों को समझना जरूरी हो जाता है।

क्या है सोलर ट्राली (What is Solar Trolley)

सोलर ट्राली एक ऐसी अत्याधुनिक तकनीक है, जिससे आप अपने खेती कार्यों को बेहद आसान बना सकते हैं। इस तकनीक की मदद से आप सोलर पैनल के माध्यम से अपना मोटोर चला सकते हैं और हर साल लाखों की बचत कर सकते हैं।

सोलर ट्राली कैसे काम करता है (How does solar trolley works?

बता दें कि आपके खेतों में जितने ज्यादा HP का मोटोर रहता है, आपको उससे पानी उतना ही ज्यादा मिलता है। आज के समय में अधिकांश लोग सामान्य रूप से अपने पास 2 HP या 3 HP का मोटोर रखते हैं। बता दें कि 2 HP का मोटोर Single Phase में चलता है और इससे लोगों को मोटोर जलने का डर नहीं होता है। क्योंकि लोगों के लिए मोटोर जलने पर Rewinding Cost काफी महंगा साबित होता है।

वहीं, लोगों के लिए एक अन्य समस्या यह भी है कि कई जगहों पर बिजली होती ही नहीं है और अगर होती है तो नियमित रूप से नहीं होती है। इस वजह से किसानों को अपने खेती कार्यों में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। ऐसी स्थिति में लोग अपनी खेतों की सिंचाई के लिए डीजल इंजन का इस्तेमाल करते हैं।लेकिन डीजल इंजन का इस्तेमाल उनके लिए काफी महंगा साबित होने के साथ ही, कहीं ले जाने में भी काफी मुश्किल होती है। 

डीजल चलाने में कितना होता है खर्च? 

बता दें कि आज के समय में यदि आप अपने खेती कार्यों में 3 HP से लेकर 5 HP तक के डीजल को इस्तेमाल में ला रहे हैं, तो आपको प्रति घंटे करीब 1 लीटर डीजल की जरूरत पड़ती है।

वहीं, यदि आपने अपनी खेतों की सिंचाई के लिए 3 इंच के डिलीवरेबल पाइप का इस्तेमाल किया है, तो आपको एक दिन में कम से कम 10 लीटर डीजल खर्च करने होंगे, जिसकी कीमत आज के समय में करीब 1 हजार रुपये होती है। बता दें कि 1 लीटर डीजल से आप ज्यादा से ज्यादा 1 बीघा खेत की सिंचाई कर सकते हैं।

इसके अलावा, हम कुछ ऐसे फसल लगाते हैं जिसे पानी की जरूरत नियमित रूप से होती है। जैसे - धान।  तो ऐसी स्थिति में किसानों के लिए इस खर्च को उठाना काफी चुनौतीपूर्ण हो जाता है। 

वहीं, डीजल या बिजली से सिंचाई में किसानों के सामने एक और समस्या यह है कि उन्हें इस काम के लिए रातों को घर से बाहर रहना पड़ता है। क्योंकि दिन के समय में बिजली नहीं होती है। सोलर ट्रॉली (Solar Trolley) के जरिए किसान इन सभी परेशानियों को आसानी से दूर कर सकते हैं।

क्या हैं सोलर ट्रॉली के फायदे (Benefits of Solar Trolley)

यदि आप अपने खेतों की सिंचाई के लिए सोलर पैनल का इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो आप सुबह 6 बजे से लेकर शाम के 5 से 6 बजे तक इसका इस्तेमाल आसानी से कर सकते हैं। यदि आपके यहाँ 8 घंटे भी धूप रहती है, तो आपके खेतों की सिंचाई आसानी से हो जाएगी।

यदि आपके पास 5 एचपी का मोटर है, तो आपको 6 किलो वाट का सोलर पैनल लेना होगा। यानी आपके पास जितनी भी क्षमता का मोटर है, आप उससे 1 किलोवाट से भी ज्यादा का सोलर पैनल लेंगे, तो आपको कभी कोई दिक्कत नहीं आएगी।

बता दें कि आज के समय में लोगों के खेत एक जगह पर नहीं होते हैं। इस वजह से उन्हें इसकी सिंचाई करने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है और किसी के लिए भी 12 सोलर पैनल (6 किलो वाट) को एक एक कर कहीं ले जाना काफी मुश्किल होगा।

ऐसी स्थिति में वे किसी भी कंपनी के ट्रैक्टर पर इसे लगा कर आसानी से पोर्टेबल बना सकते हैं। 

इससे आपके लिए अपने खेतों की सिंचाई करना आसान तो होगा ही, आप दूसरों के खेत की सिंचाई कर हर दिन 10 घंट चला कर कम से कम 1000 रुपये की कमाई भी कर सकते हैं।

वहीं, इसके अन्य फायदे यह हैं कि इसका इस्तेमाल आप अपने घरेलू कार्यों में भी कर सकते हैं, जैसे पानी का टंकी भरना, एसी चलाना, फ्रिज चलाना, आदि। वहीं, सोलर ट्रॉली के चोरी होने का भी कोई खतरा नहीं होता है।

फायदे जानिए संक्षिप्त रूप से

  1. कहीं ले जाना बेहद आसान
  2. चोरी होने का कोई खतरा नहीं
  3. घरेलू कार्यों में भी कर सकते हैं इस्तेमाल
  4. बिजली बिल और डीजल पर आने वाले खर्च की बचत
  5. दूसरों के खेतों को सींच कर कमाई का अवसर
  6. स्टैंड की अपेक्षा अधिक मजबूत

सोलर ट्राली के कंपोनेंट (Components of Solar Trolley)

Solar Panel - आज के समय में बाजार में Loom Solar, Highest Capacity और Best Technology की सोलर पैनल को लाने के लिए जानी जाती है। इसका फायदा यह है कि आपके पास जितने Watt वाट का सोलर पैनल होगा, आपका Structure Cost उतना ही ज्यादा बचेगा। जैसे यदि कोई polycrystalline solar panel को लगाता है तो, ऐसी स्थिति में यदि आप 6 किलो वाट का सोलप पैनल लगा रहे हैं, तो आपको 18 पैनल लगाने होंगे। लेकिन यदि आप Mono Solar Panel लगा रहे हैं, तो आपका काम 12 पैनल से ही हो जाएगा। ऐसी स्थिति में आपके लिए Structure पर आने वाला काफी खर्च बचता है।इसके अलावा सोलर ट्रॉली में BFD, Motor, Wire और Distribution Connecting Box आदि भी लगे होते हैं। 

सोलर ट्रॉली पर आने वाला खर्च (Price of solar trolley)

बता दें कि यदि आप सोलर ट्रॉली खरीदना चाहते हैं, तो आपको करीब 4.5 लाख से लेकर 5 लाख रुपये तक के खर्च आएंगे।

निष्कर्ष

हमें यकीन है कि यह लेख आपको पसंद आएगा। यदि आप सोलर ट्रॉली खरीद कर अपने घरेलू और खेती कार्यों में खुद को पूरी तरह से आत्मनिर्भर बनाना चाहते हैं, तो अभी हमसे संपर्क करें। हमारे विशेषज्ञ आपकी मदद के लिए हमेशा ही तैयार रहते हैं।

Leave a comment

ഏറ്റവും കൂടുതൽ വിറ്റഴിക്കപ്പെടുന്ന ഉൽപ്പന്നങ്ങൾ