Commercial Printer के लिए लगाएं सोलर पैनल, होंगे कई फायदे

आज भारत में प्रिंटर का एक बड़ा बाजार (Printer Market In India) है। आपको कागजों को प्रिंट करने वाली मशीनें हर मोड़ पर आसानी से मिल जाएगी। लेकिन कमर्शियल प्रिंटर (Commercial Printer) आपको कहीं कहीं ही देखने के लिए मिलेगी।बता दें कि कमर्शियल प्रिंटर (Commercial Printer) का इस्तेमाल बड़े बैनर, होर्डिंग्स या फ्लैस जैसी चीजों को प्रिंटर करने में इस्तेमाल किये जाते हैं और इन्हें अक्सर बाजार के व्यस्तम इलाकों में ही लगाए जाते हैं।

भारत में सर्वश्रेष्ठ कमर्शियल प्रिंटर्स (Top commercial printers in India)

आज भारत में HP, Canon, Epson जैसी कई कंपनियां कमर्शियल प्रिंटर्स बनाने के लिए जानी जाती है, जो काफी उन्नत तकनीकों से लैस होती है। 

कितनी होती है कीमत?

आज बाजार में कमर्शियल प्रिंटर की कीमत 50 हजार से 3 लाख के बीच में आसानी से होती है। और लोग हमेशा अपने बजट के अनुसार इसका चयन करते हैं।

कैसे तय होती है कीमत?

किसी भी Commercial Printer की कीमत उसकी प्रति मिनट प्रिटिंग क्षमता से निर्धारित होती है। बता दें कि आम तौर पर किसी भी Commercial Printer से प्रति मिनट 40 से 50 पेज आसानी से प्रिंट हो जाते हैं।साथ ही, यह भी मायने रखता है कि आपको उससे सिर्फ A4 साइज का पेज प्रिंट करना है या उससे फ्लैक्स या होर्डिंग आदि भी प्रिंट करना है।ऐसे में लोग अपने बजट और जरूरत के हिसाब से प्रिंटर का चयन करते हैं और अपने बिजनेस को शुरू करते हैं।

कितनी होती है बिजली की जरूरत?

बता दें कि किसी भी प्रिंटर को चलाने के लिए आपको ज्यादा बिजली की जरूरत नहीं पड़ती है। यदि आपके पास Commercial Printer है, तो इसके लिए 5 किलोवाट बिजली पर्याप्त है।

पावर बैकअप सॉल्यूशन

चूंकि आज देश के हर हिस्से में भारी बिजली कटौती की समस्या आम है। ऐसे में बार बार बिजली कटौती होने से आपका बिजनेस काफी प्रभावित हो सकता है। यही कारण है कि अपना प्रिंटर बिना किसी बाधा के चलाने के लिए आपके लिए एक पावर बैक अप सॉल्यूशन (Power Backup Solution For Printer) को रखना अनिवार्य हो जाता है।

और यदि आप इसके लिए पावर बैक अप सॉल्यूशन की तलाश कर रहे हैं, तो जनरेटर आपके लिए काफी महंगा साबित होगा। क्योंकि इसके रखरखाव में और चलाने में आपको हर महीने काफी बिल आएगा और यह पर्यावरण के लिए भी सुरक्षित नहीं है।ऐसे में, आप अपने पावर बैकअप सॉल्यूशन की जरूरतों को पूरा करने के लिए 5 किलोवाट का इन्वर्टर बैटरी रख सकते हैं। 

आगे की राह

एक बार इन्वर्टर बैटरी खरीद लेने के बाद, आप अपने बिजनेस में और अधिक सस्टेनबिलिटी के लिए अपने छत पर 5 किलोवाट के सोलर पैनल को भी लगवा सकते हैं।हो सकता है कि यह शुरू शुरू में आपको महंगा लगे, लेकिन एक बार सोलर एनर्जी में निवेश कर देने के बाद, आप वर्षों तक बिजली के मामले में आत्मनिर्भर हो सकते हैं और आपको हमेशा निर्बाध और मुफ्त बिजली मिलती रहेगी।

क्या हो सकती है परेशानी

चूंकि, प्रिंटिंग प्रेस दिन रात चलने वाला बिजनेस है। यदि आप अपने प्रिटिंग प्रेस को सोलर सिस्टम पर चला रहे हैं, तो हो सकता है कि रात होते होते आपकी बैटरी डिस्चार्ज हो जाए और धूप न होने के कारण आप इसे सोलर पैनल के जरिए चार्ज भी नहीं कर सकते हैं।अतः ऐसी परेशानी से बचने के लिए आप अपने घर में बैटरी की संख्या बढ़ा सकते हैं या हाई ब्रिड इन्वर्टर खरीद सकते हैं, ताकि आपका काम बिजली से भी चलता रहे और कोई परेशानी न हो।

निष्कर्ष

हमें यकीन है कि यह लेख आपके लिए मददगार साबित होगा। यदि आप अपने घर में कमर्शियल प्रिंटर या सोलर सिस्टम लगाना चाहते हैं, तो अभी हमसे संपर्क करें। हमारे विशेषज्ञ आपकी जरूरतों को समझते हुए, आपको आगे की राह दिखाएंगे।

Leave a comment

সর্বাধিক বিক্রিত পণ্য

জনপ্রিয় পোস্ট

  1. Buying a Solar Panel?
  2. Top 10 Solar Companies in India, 2022
  3. This festive season, Power Your Home with Solar Solutions in Just Rs. 7000/- EMI!
  4. Top Lithium Battery Manufacturers in World, 2022
  5. How to Install Rooftop Solar Panel on Loan?