जानिए पीएम मोदी के PLI Scheme से मिलेगा लाखों को रोजगार!

पीएम नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) द्वारा देश में मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर को तेजी से बढ़ावा देने के लिए साल 2020 में पीएलआई योजना (PLI Scheme) को लॉन्च किया था। जून 2020 में शुरू हुई यह योजना मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में बाधाओं की पहचान करने, केन्द्र एवं राज्य सरकार के बीच तेजी से अनुमोदन के लिये समन्वय को बेहतर बनाने, त्वरित निवेश के मूल्यांकन, आदि के उद्देश्य के साथ शुरू किया गया था। 

बता दें कि इस योजना के लिए सचिवों के अधिकार प्राप्त समूह को गठित किया गया है। जिसकी अध्यक्षता  कैबिनेट सचिव द्वारा की जाती है। इस समूह में नीति आयोग की सीईओ, उद्योग एवं आंतरिक व्यापार विभाग के सचिव और अन्य संबंधित मंत्रालयों के सचिव शामिल होते हैं।

पीएलआई योजना के तहत कितने का बजट है? (How much is the budget under the PLI scheme)

सरकार ने इस योजना के तहत विभिन्न लक्ष्यों को हासिल करने के लिए 1.97 लाख करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया था। वहीं, वित्तीय वर्ष 2022-23 के दौरान सौर पीवी मॉड्यूल के लिये 19,500 करोड़ रुपए का अतिरिक्त बजट आवंटित किया गया है।

आप देखिए पीएलआई स्‍कीम, एक लाख करोड़ रुपया, दुनिया के लोग हिन्‍दुस्‍तान में अपना नसीब आजमाने आ रहे हैं. टेक्‍नोलॉजी लेकर के आ रहे हैं. रोजगार के नये अवसर बना रहे हैं. भारत मैन्‍यूफैक्चिरिंग हब बनता जा रहा है. आत्मनिर्भर भारत की बुनियाद बना रहा है. आज electronic goods manufacturing हो, मोबाइल फोन का manufacturing हो, आज देश बहुत तेजी से प्रगति कर रहा है. जब हमारा ब्रह्मोस (BrahMos) दुनिया में जाता है, कौन हिन्‍दुस्‍तानी होगा जिसका मन आसमान को न छूता होगा दोस्तों. आज हमारी मेट्रो coaches, हमारी वंदे भारत ट्रेन विश्व के लिए आकर्षण बन रहा है.

कौन से सेक्टर को मिलेगा PLI Scheme का फायदा? (Which sector will get the benefit of PLI Scheme)

बता दें कि इस योजना के तहत निम्न तीन उद्योगों को लक्षित किया गया -

  • मोबाइल और संबद्ध घटक निर्माण
  • इलेक्ट्रिसिटी कंपोनेंट निर्माण
  • चिकित्सा उपकरण

पीएलआई योजना के अंतर्गत मिलने वाले लाभ (Benefits under PLI Scheme)

बता दें कि सरकार ने इस योजना को  ऑटोमोबाइल एवं ऑटो कंपोनेंट, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड आईटी हार्डवेयर, दूरसंचार, फार्मास्यूटिकल्स, सौर मॉड्यूल, धातु और खनन, वस्त्र, ड्रोन व उन्नत रसायन सेल बैटरी सहित 14 उद्योगों के लिए शुरू किया है।

इस योजना के तहत 1 प्रतिशत से लेकर 20 प्रतिशत तक प्रोत्साहन राशि मिलती है। प्रोत्साहन राशि को किसी कंपनी द्वारा बीते 5 वर्षों की अवधि के दौरान गई बिक्री और वैल्यू एडिशन के आधारि पर निर्धारित किया जाता है।

पीएलआई योजना के तहत नये बदलाव (PLI new scheme)

सरकार ने सोलर मॉड्यूल मैन्युफैक्चरिंग (Solar Module Manufacturing) को बढ़ावा देने के लिए इसे पीएलआई योजना से जोड़ने का फैसला किया है। इस लिए घरेलू सौर सेल और मॉड्यूल मैन्युफैक्चरिंग से जुड़ी प्रोत्साहन राशि को 4500 करोड़ रुपए से बढ़ाकर 24,000 करोड़ रुपए कर दिया गया है। वहीं, सौर मॉड्यूल के विनिर्माण के लिए के लिए 19,500 करोड़ रुपए का अतिरिक्त आवंटन है।

मोबाइल निर्माण के लिए पीएलआई योजना (PLI scheme for mobile manufacturing)

इस योजना से देश में मोबाइल फोन प्रोडक्शन में तेजी से वृद्धि हुई है। बता दें कि वित्तीय वर्ष 2021-22 के दौरान देस में मोबाइल फोन के निर्माण में, इससे बीते वर्ष की तुलना में 126.11 प्रतिशत अधिक रही। इस योजना के तहत इलेक्ट्रानिक्स उत्पादों के निर्माताओं को अब तक 1781.02 करोड़ के इंसेंटिव दिए जा चुके हैं।

सोलर इंडस्ट्री को नया आयाम देने की तैयारी

बता दें कि सरकार द्वारा साल 2030 तक 280000 मेगा वाट सोलर क्षमता को हासिल करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसी मकसद को पूरा करने के लिए 4500 करोड़ रुपए के आवंटन को मंजूरी दी गई। सरकार के मुताबिक इस योजना में इतनी क्षमता है कि इससे 5 वर्षों में 30 लाख करोड़ का अतिरिक्त उत्पादन हो सकता है। जिससे करीब 60 लाख लोगों को रोजगार मिल सकता है।

पीएलआई का लाभ कैसे उठाएं? (How to avail PLI scheme)

जैसा कि पीएलआई योजना के अंतर्गत 14 उद्योग हैं। इस लाभ उठाने के लिए आप जिस सेक्टर में काम कर रहे हैं, उससे संबंधित विभाग में आवेदन करना होगा। इसके लिए आपको आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ, मोबाइल नंबर, मैन्युफैक्चरिंग सर्टिफिकेट जैसे कागजात भी जमा करने होंगे।इस विषय में अधिक और नवीतम जानकारी आप यहां से क्लिक कर सकते हैं - https://www.meity.gov.in/esdm/pli

पीएलआई योजना के लिए पात्रता (Eligibility Criteria For PLI Scheme) 

इस योजना के अंतर्गत आने वाली कंपनियों को अपने यहाँ प्रोसेसिंग और ऑपरेशन एक्टिविटीज जारी रखनी होगा। इसके तहत किसी भी कारोबारी के एक ही कंपनी या उत्पाद को वैध माना जाएगा। बता दें कि ग्रुप कंपनी आवेदन के दौरान एक से अधिक कंपनियों के लिए आवेदन कर सकते हैं। लेकिन चयन के दौरान किसी एक को ही प्राथमिकता दी जाएगी।

निष्कर्ष 

हमें यकीन है कि यह लेख आपके लिए मददगार साबित होगी। यदि आप ऐसे ही रोचक विषयों में और अधिक जानकारी हासिल करना चाहते हैं या अपने घर में सोलर लगाना चाहते हैं, तो अभी हमसे संपर्क करें। हमारे विशेषज्ञ आपकी मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं।

Leave a comment

সর্বাধিক বিক্রিত পণ্য

জনপ্রিয় পোস্ট

  1. Buying a Solar Panel?
  2. Top 10 Solar Companies in India, 2022
  3. This festive season, Power Your Home with Solar Solutions in Just Rs. 7000/- EMI!
  4. Top Lithium Battery Manufacturers in World, 2022
  5. How to Install Rooftop Solar Panel on Loan?