क्या है CIBIL Score, जानिए इसके बारे में सबकुछ

क्या आप अपने नये घर या कार, आदि के लिए बैंक से लोन (Bank Loan) लेने की योजना बना रहे हैं? यदि हाँ, तो आपको अपने बैंक में यह साबित करना होगा कि आपका क्रेडित स्कोर अच्छा हो, तभी आपको बैंक से लोन मिल सकता है।हम इस स्कोर को क्रेडिट स्कोर (Credit Score) या सिबिल स्कोर (CIBIL Score) कहते हैं। यह बैंक से किसी भी प्रकार का लोन लेने के लिए अनिवार्य होता है। क्योंकि, इसी स्कोर के आधार पर बैंक आपके लोन के पास करता है। इस लिहाज से आपको अपने क्रेडिट स्कोर की सही जानकारी होनी जरूरी है।

क्या है सिबिल स्कोर? (What is CIBIL Score)

सिबिल स्कोर 300 से 900 अंकों के बीच की एक संख्या होती है, जो आपकी क्रेडिट विश्वसनीयता और योग्यता को प्रदर्शित करता है। यहाँ आपका स्कोर जितना ज्यादा होगा, आपको लोन के लिए अप्रूवल और बेहतर डील मिलने में उतनी आसानी होगी। अधिकांश बैंक लोन या अन्य नॉन बैंकिंग कार्यों के लिए 750 न्यूनतम क्रेडिट स्कोर जरूरी माना जाता है।

सिबिल स्कोर का पूरा नाम क्या है? (What is the full form of CIBIL Score)

इसका पूरा नाम Credit Information Bureau (India) Limited है। यह भारत की सबसे अग्रणी क्रेडिट रेटिंग एजेंसी है, जो आपके लोन लेने की क्षमता को दिखाती है। यह व्यक्तियों और संगठनों बिजनेस लोन और क्रेडिट संबंधित भुगतानों की जानकारियों को मासिक आधार में जुटाती है।

कैसे बनता है सिबिल स्कोर? (How is CIBIL score calculated)

किसी भी सिबिल स्कोर को इस आधार पर निर्धारित किया जाता है कि आप समय पर लोन चुका रहे हैं या नहीं। यदि आप वक्त पर लोन चुका रहे हैं, तो इस पर 30 प्रतिशत, सिक्योर्ड या अनसिक्योर्ड लोन पर 25%, क्रेडिट एक्सपोजर पर 25% और लोन के इस्तेमाल पर 20% सिबिल स्कोर बनता है।

इसे कैलकुलेट करने के निम्न चरण हैं -

  1. पेमेंट हिस्ट्री : ईएमआई भरने में देरी करने से या डिफॉल्ट करने से आपके सिबिल स्कोर पर काफी बुरा असर पड़ता है।
  1. क्रेडिट मिक्स: मिला-जुला सिक्योर्ड और अनसिक्योर्ड लोन आपके क्रेडिट स्कोर के लिए काफी अच्छा होता है।
  1. बार-बार पूछताछ : कर्ज के बारे में बैंक से ज्यादा पूछ-ताछ करने से आपके क्रेडिट स्कोर पर भी बुरा असर पड़ता है। क्योंकि, इससे यह संकेत मिलता है कि भविष्य में आपके लोन का बोझ बढ़ सकता है.
  1. हाई क्रेडिट यूटिलाइजेशन : हाई क्रेडिट यूटिलाइजेशन लिमिट वक्त के साथ लोन बढ़ने का संकेत देती है। यह आपके क्रेडिट स्कोर के लिए अच्छा नहीं होता है। 

इसके अलावा अपने बैंक खाते में न्यूनतम बैलेंस मैंटेन न करने या उसमें माइनस में बैलेंस होने पर भी आपका क्रेडिट स्कोर खराब होता है।

कितना सिबिल स्कोर आपके लिए अच्छा है? (How Much CIBIL Score is Good for You) 

वैसे तो करीब 900 का क्रेडिट स्कोर आपके लिए सबसे अच्छा माना जाता है। लेकिन 750 के आस पास का स्कोर होने से भी आपको लोन या क्रेडिट कार्ड आसानी से मिल जाती है। वहीं,  550 से 700 के स्कोर को औसत माना जाता है। यदि उससे कम है, तो आपको लोन या क्रेडिट कार्ड लेने में कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इस लिए अपने क्रेडिट स्कोर को हमेशा ही मेंटेन करके रखने की कोशिश करनी चाहिए।

क्रेडिट स्कोर खराब होने पर लोन कैसे मिलेगा? (How to get loan if credit score is bad)

यदि आपका क्रेडिट स्कोर काफी खराब है और आपको पैसों की तत्काल जरूरत है। तो आपके लिए सीधे बैंक लोन के लिए आवेदन नहीं करना ज्यादा अच्छा होगा। क्योंकि यह आपको वैसे भी नहीं मिलेगा। इस लिए आप ऐसी स्थिति में NBFC से लोन के लिए आवेदन करें। क्योंकि इसके जरिए कम सिबिल स्कोर वाले लोग भी आसानी से लोन हासिल कर सकते हैं। लेकिन इसके बदले में आपको ब्याज अपेक्षाकृत अधिक चुकाना पड़ता है।

इसके अलावा आप गोल्ड लोन, किसी गारंटर की मदद से ज्वाइंट लोन, वित्तीय सेवाएं देने वाली कंपनियों से एडवांस सैलरी, फिक्स्ड डिपॉजिट के बदले पर्सनल लोन, बीमा पॉलिसी के जरिए लोन, पीयर-टू पीयर लेंडिंग के जरिए लोन की भी राह चुन सकते हैं और अपनी जरूरतों को पूरी कर सकते हैं।

कैसे सुधारें अपना CIBIL Score? (How to improve your CIBIL Score) 

यदि आपका सिबिल स्कोर खराब है, तो इसे सुधारा भी जा सकता है। इसके लिए निम्न चरणों का पालन करें।

  • अपने बकाया बिलों का भुगतान हमेशा समय पर करें। क्योंकि लेट पेमेंट को अच्छा नहीं माना जाता है। 
  • ज्यादा क्रेडिट कार्ड का ज्यादा इस्तेमाल न करें। जितना संभव हो सके अपने खर्चों को कम करें। 
  • होम और कार लोन जैसे सिक्योर्ड लोन और पसर्नल और क्रेडिट कार्ड सरीखे अनसिक्योर्ड लोनों के बीच बैलेंस बनाए रखना जरूरी है।
  • यदि आपके पास ज्वाइंट खाता है तो आप अपने साझेदार पर नजर रखें। क्योंकि उसकी लापरवाही का भी आपके क्रेडिट स्कोर पर बुरा असर पड़ता है। 
  • समय-समय पर क्रेडिट हिस्ट्री की समीक्षा जरूर करें

कितने दिनों में चेक करें सिबिल स्कोर? (In how many days to check CIBIL Score)

कई बार ऐसे मामले सामने आते हैं कि बैंक की गलती से भी आपका सिबिल स्कोर बिगड़ जाता है। ऐसी घटनाओं से बचने के लिए आप अपना सिबिल स्कोर हर 6 महीने में जरूर चेक करें। बता दें कि जब आप किसी धोखाधड़ी के शिकार होते हैं, उस वक्त भी आपका क्रेडिट स्कोर कम होता है इसमें सुधार के लिए तुरंत अपने बैंक से संपर्क करें।

कैसे चेक करें अपना सिविल स्कोर? (Check Free CIBIL Score Online) 

अपने सिबिल स्कोर को चेक करना काफी आसान है। इसके लिए आप निम्न चरणों का पालन कर सकते हैं -

स्‍टेप 1: सिबिल की वेबसाइट पर लॉग-इन करें

अपने सिबिल स्कोर को चेक करने के लिए सबसे पहले इसके आधिकारिक बेवसाइट https://www.cibil.com/ पर जाएं और यहाँ दायीं ओर टॉप कार्नर में 'गेट योर सिबिल स्‍कोर' के विकल्प पर क्लिक करें। यहाँ से आपको सब्‍सक्रिप्‍शन ऑप्‍शंस वाले पेज पर रीडायरेक्ट किया जाएगा और आपको फ्री ऑप्‍शन के लिए स्‍क्रॉल डाउन करना होगा। 

स्‍टेप 2 : अपना अकाउंट बनाएं

यहाँ आप अपना ई-मेल आईडी, नाम (जो आपका यूजरनेम भी होगा), पासवर्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी, पासपोर्ट नंबर, आधार जैसे आईडी प्रूफ, जन्‍मतिथि, पिन कोड और मोबाइल नंबर दर्ज करें। फिर, इन जानकारियों को भरने के बाद 'एक्‍सेप्‍ट एंड कंटीन्‍यू' के विकल्प पर क्लिक करें।

स्‍टेप 3 : अपनी पहचान की पुष्टि करें

अगले चरण में आपको अपने पहचान की पुष्टि करनी होगी। इसके लिए आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एक वन-टाइम पासवर्ड (ओटीपी) मिलेगा। ओटीपी दर्ज करें और 'कंटीन्‍यू' पर क्लिक करें।

स्‍टेप 4 : डैशबोर्ड पर जाएं 

यहाँ आपके एनरोलमेंट की पुष्टि होगी और आपको एक नये विंडो पर रीडायरेक्ट किया जाएगा। इस विषय में आपको ई-मेल भी भेजा जाएगा। अपने क्रेडिट स्‍कोर को चेक करने के लिए 'गो टू डैशबोर्ड' पर क्लिक करें।

स्‍टेप 5 : सिबिल स्‍कोर देखें

यहाँ आपको माईस्‍कोर डॉट सिबिल डॉट कॉम पर रीडायरेक्ट किया जाएगा और आप यहाँ अपना सिबिल स्‍कोर और सिबिल रिपोर्ट बिल्कुल फ्री में देख सकते हैं.

वहीं, एक बार अकाउंट बना लेने के बाद आप https://myscore.cibil.com/ पर 'मेंबर लॉग-इन' सेलेक्‍ट कर अपना सिबिल स्‍कोर देख सकते हैं।

यहाँ लॉग-इन करने के लिए आपको अपना ई-मेल आईडी और पासवर्ड देना होगा। यदि आप ठीक एक ही साल में दोबारा अपना सिबिल स्कोर चेक करना चाहते हैं, तो आपको सिबिल के पेड प्‍लान को सब्‍सक्राइब करना होगा।

वहीं, यदि आपका प्रमाणीकरण सफल नहीं रहता है, तो आपको अपनी पहचान सत्यापित करने के लिए CIBIL ग्राहक सहायता पर कॉल करना होगा।

बता दें कि आधिकारिक वेबसाइट के अलावा आप बैंकिंग सर्विसेज एग्रीगेटरों की वेबसाइट पर जाकर भी अपने क्रेडिट स्‍कोर को आसानी से चेक कर सकते हैं। यदि नहीं तो आप अपने स्मार्टफोन में Paytm App के जरिए भी इसे आसानी से चेक कर सकते हैं। Paytm App के ऑल-सर्विसेज में जाकर आपको फ्री क्रेडिट स्कोर का विकल्प मिलेगा। यहाँ आप अपनी सभी जरूरी जानकारियां भरकर स्कोर चेक करें।

CIBIL पोर्टल पर शिकायत कैसे दर्ज करें? (How to register complaint on CIBIL Portal)

यदि आपको अपने क्रेडिट स्कोर में कोई खामी नजर आती है, तो आप इसमें सुधार के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर ही शिकायत दर्ज कर सकते हैं। इस सेवा के लिए कोई शुल्क नहीं है। एजेंसी द्वारा कोई भी विवाद 30 दिनों के अंदर सुलझाया जाता है।

CIBIL कब तक आपके क्रेडिट हिस्ट्री के रिकॉर्ड रखता है?

बता दें कि CIBIL कम से कम 7 से 10 वर्षों के लिए आपके क्रेडिट हिस्ट्री का रिकॉर्ड रखता है।

निष्कर्ष

हमें यकीन है कि यह लेख आपके लिए मददगार साबित होगा। यदि आप नियमित रूप से ऐसे ही रोचक विषयों के बारे में जानकारी हासिल करना चाहते हैं, तो हमारे साथ बनें रहें। वहीं, यदि आप अपने घर में सोलर सिस्टम लगाना चाहते हैं और खुद को बिजली के मामले में आत्मनिर्भर बनाना चाहते हैं, तो अभी हमसे संपर्क करें। हमारे विशेषज्ञ आपकी मदद के लिए हमेशा ही तैयार रहते हैं।

Leave a comment

সর্বাধিক বিক্রিত পণ্য

জনপ্রিয় পোস্ট

  1. Buying a Solar Panel?
  2. Top 10 Solar Companies in India, 2022
  3. This festive season, Power Your Home with Solar Solutions in Just Rs. 7000/- EMI!
  4. Top Lithium Battery Manufacturers in World, 2022
  5. How to Install Rooftop Solar Panel on Loan?