आपके लिए Insurance क्यों है जरूरी, जानिए यहाँ!

बीमा यानी इंश्योरेंस (Insurance) हर किसी के जीवन का एक महत्वपूर्ण अंग है। बीमा आपको भविष्य में किसी भी नुकसान से निपटने में काफी मदद करता है। चूंकि हमें नहीं पता है कि आने वाले क्षण में हमारे साथ क्या होगा, ऐसी स्थिति में बीमा पॉलिसी उन संभावित खतरों को हमें कवर करने में मदद करती है।आइये जानते हैं इसके बारे में खास बातें - 

इंश्योरेंस क्या होता है? (What is Insurance)

Insurance का अर्थ है - भविष्य के खतरों से सुरक्षा।

यदि आप कोई बीमा लेते हैं, तो आपको एक निश्चित समय पर एक एक रकम बीमा कंपनी को भरनी पड़ती है और यदि आपको कोई नुकसान होता है, तो कंपनी आपको होने वाली आर्थिक नुकसान की भरपाई करती है।

इसी प्रकार यदि Insurance Company ने किसी कार, घर, मोबाइल फोन, लैपटॉप आदि का बीमा किया है, तो उसके टूटने फूटने, खोने, चोरी होने या डैमेज होने की स्थिति में आपको तय मुआवजा मिलता है।

बता दें कि इंश्योरेंस (Insurance), बीमा कंपनी और आपके बीच का एक अनुबंध होता है। इस अनुबंध के आधार पर कंपनी आपसे एक निश्चित धनराशि यानी प्रीमियम लेती है और और बीमित व्यक्ति को पॉलिसी की शर्तों के अनुसार किसी नुकसान की स्थिति में हर्जाना देती है।

बीमा कितने प्रकार का होता है? (What are the types of insurance) 

सामान्य रूप से बीमा दो तरह का होता है, जो निम्न है -

  1. जीवन बीमा (Life Insurance)
  2. साधारण बीमा (General Insurance)

क्या होता है जीवन बीमा? (What is life insurance)

जीवन बीमा यानी Life Insurance का अर्थ है कि यदि इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने वाले शख्स की मृत्यु हो जाती है या वह अस्थायी दिव्यांगता का शिकार हो जाता है, तो उसके परिवार को बीमा कंपनी की ओर से एक निश्चित मुआवजा हासिल होता है।

चूंकि, यदि किसी परिवार में धन अर्जित करने वाले व्यक्ति की असामयिक मौत हो जाती है, तो वह घर पूरी तरह से बिखर जाता है और उनके लिए खर्चों को पूरा करना काफी मुश्किल होता है। ऐसे में अपने परिवार को भविष्य के किसी भी ऐसे संकट से बचाने के लिए और अपने बच्चों का भविष्य संवारने के लिए Life Insurance लेना काफी जरूरी हो जाता है। इसका चयन आप अपनी बजट और जरूरत के हिसाब से कर सकते हैं।

कितने तरह की होती है जीवन बीमा पॉलिसी? (How many types of life insurance policy are there)

जीवन बीमा पॉलिसी के विभिन्न प्रकार निम्न हैं -

  • टर्म इंश्योरेंस प्लान
  • मनीबैक इंश्योरेंस पॉलिसी
  • एंडोमेंट पॉलिसी
  • रिटायरमेंट प्लान
  • सेविंग्स एंड इन्वेस्टमेंट प्लान्स
  • यूलिप
  • आजीवन लाइफ इंश्योरेंस
  • चाइल्ड इंश्योरेंस पॉलिसी 

साधारण बीमा क्या होता है? (What is general insurance)

इस बीमा के तहत वाहन, घर, पशु, फसल, स्वास्थ्य बीमा आदि जैसी चीजें कवर होती हैं। जिसका विस्तार नीचे है -

1. घर बीमा ( Home Insurance): इसके तहत आपके कंपनी द्वारा आपके घर का बीमा होता है। एक बार इंश्योरेंस करा लेने के बाद, यदि आपके घर को किसी भी प्रकार का नुकसान होता है, तो इसकी भरपाई बीमा कंपनी द्वारा की जाती है। बता दें कि इसके तहत आग, भूकंप, आकाशीय बिजली, बाढ़ आदि से लेकर घर में चोरी होना, आग, लड़ाई-दंगे आदि जैसी कृत्रिम आपदा तक शामिल हैं।

2. वाहन बीमा ( Motor Insurance): भारत में हर साल लाखों सड़क दुर्घटनाएं होती हैं। इससे आपकी जिंदगी और वाहन, दोनों को काफी खतरा होता है। इस लिए आपको वाहन बीमा लेना जरूरी है। फिलहाल सरकार ने ऐसा नियम बना दिया है कि यदि आप अपने वाहन का बीमा करवाए बिना है, उसे सड़क पर चलाते हैं, तो आपको ट्रैफिक पुलिस को जुर्माना भरना पड़ सकता है।

वहीं, इसका सबसे ज्यादा फायदा तब होता है जब आपकी गाड़ी से किसी व्यक्ति को चोट लग गई या किसी व्यक्ति की मौत हो गई। इसे Third Party Insurance के अंतर्गत कवर किया जाता है। यदि आपके पास भी कोई दोपहिया/तिपहिया वाहन या कार है तो उसका बीमा जरूर कराना चाहिए। वाहन चोरी होने की स्थिति में भी आपको बीमा का लाभ मिलता है।

3. स्वास्थ्य बीमा ( Health Insurance): आज कब किसी क्या बीमारी हो जाए, कहना मुश्किल है और अस्पताल जाने का मतलब है खर्चों का घर। ऐसी स्थिति में आपको एक स्वास्थ्य बीमा ( Health Insurance) तो लेनी ही चाहिए।

बता दें कि बीमा लेने के बाद आपके खर्च को कंपनी द्वारा कवर किया जाता है और किसी बीमारी पर होने वाले खर्च की सीमा आपकी पॉलिसी पर निर्भर करती है।

4. यात्रा बीमा ( Travel Insurance): यह किसी सफर के दौरान होने वाले नुकसान से आपको बचाती है। यदि आप किसी काम से या घूमने के लिए विदेश जाते हैं और आपको चोट लग जाती है या सामान गुम हो जाता है तो बीमा कंपनी द्वारा आपको मुआवजा दिया जाता है। यह पॉलिसी आपकी यात्रा शुरू होने से लेकर यात्रा खत्म होने तक ही वैध होती है। इसके लिए अलग-अलग बीमा कंपनियों की शर्त अलग-अलग हो सकती है।

5. फसल बीमा ( Crop Insurance): भारत में आजादी के 7 दशकों के बाद भी करीब आधी आबादी खेती पर निर्भर है और कहीं बाढ़, तो ओलावृष्टि तो कहीं सूखे के कारण फसलों को काफी नुकसान होने का डर रहता है। ऐसी स्थिति में किसानों के लिए फसल बीमा खरीदना जरूरी हो जाता है। इसके तहत, फसल को किसी भी तरह का नुकसान होने पर बीमा कंपनी किसान को उसका मुआवजा देती है।

बता दें कि हाल के वर्षों में केन्द्र सरकार ने भी किसानों को खेती में सुरक्षा प्रदान के लिए, पीएम मोदी (PM Modi) की अगुवाई में ‘फसल सुरक्षा योजना’ की शुरुआत की गई है, जिसके तहत किसानों को प्रति एकड़ 40 हजार रुपये तक का कवर मिलता है।

कारोबार उत्तरदायित्व बीमा (Business Liability Insurance):

बता दें कि यह बीमा किसी कंपनी के कामकाज या किसी प्रोडक्ट से उपभोक्ताओं को होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए होती है। ऐसी किसी भी स्थिति में कंपनी पर लगने वाला जुर्माना और कानूनी कार्यवाही का पूरा खर्च Liability Insurance करने वाली बीमा कंपनी को उठाना पड़ता है।

अब होने लगा है सोलर पैनल का इश्योरेंस भी

आज से कुछ समय पहले सोलर पैनल पर कोई इश्योरेंस नहीं मिलता था। लेकिन आज इसका मार्केट तेजी से बढ़ रहा है। इसके बावजूद लोगों के मन में इसके टूटने, फूटने और चोरी होने को लेकर कई तरह की आशंकाएं होती हैं। लेकिन अब चिन्ता की कोई बात नहीं है। आज कई कंपनियों ने सोलर पैनल पर भी इंश्योरेंस देना (Solar System Insurance) शुरू कर दिया है।

बीमा के क्या लाभ होते हैं? (Benefits of Insurance)

चूंकि यह किसी भी मुश्किल हालात में वित्तीय परेशानियों से बचने में आपकी काफी मदद करता है। इसके जरिए आप अपने परिवार या संसाधनों को वित्तीय सुरक्षा तो प्रदान कर ही सकते हैं। इसके अलावा यह आपके टैक्स को बचाने में और बैंकों द्वारा लोन की सुविधा को आसानी से हासिल करने में भी आपके लिए मददगार साबित हो सकती है।

भारत की विश्वसनीय बीमा कंपनियां (Reliable insurance companies in India)

भारत में आप बीमा करवाने के लिए एलआईसी, अवीवा लाइफ इंश्योरेंस, एजीओएन लाइफ इंश्योरेंस, बिड़ला सन लाइफ इंश्योरेंस, केनरा एचएसबीसी ओबीसी लाइफ इंश्योरेंस, पॉलिसी बाजार, डीएचएफएल प्रामेरिका लाइफ इंश्योरेंस, एचडीएफसी स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस, आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस, आईडीबीआई फेडरल लाइफ इंश्योरेंस, कोटक महिंद्रा लाइफ इंश्योरेंस जैसी कई इंश्योरेंस कंपनियों की मदद ले सकते हैं। 

कैसे करवाएं बीमा (How to get insurance)

यदि आप बीमा करवाना चाहते हैं, तो आप बीमा कंपनी के आधिकारिक पोर्टल पर अपना प्लान चुन सकते हैं। उनके प्रतिनिधि आपको तुरंत कॉल करेंगे और आपको आगे की राह दिखाएंगे। इसके अलावा बीमा करवाने के लिए आप अपने नजदीकी एजेंट से भी संपर्क कर सकते हैं।

निष्कर्ष

हमें यकीन है कि यह लेख आपके लिए मददगार साबित होगा। यदि आप अपनी रोजमर्रा की जिंदगी से संबंधित ऐसे ही रोचक और जरूरी विषयों के बारे में जानना चाहते हैं और अपनी जिंदगी को आसान बनाना चाहते हैं, तो हमारे साथ नियमित रूप से बने रहें।

इसके अलावा, यदि आप अपने घर में सोलर पैनल लगवाना चाहते हैं, तो अभी हमसे संपर्क करें। हमारे विशेषज्ञ आपकी मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं।

Leave a comment

সর্বাধিক বিক্রিত পণ্য

জনপ্রিয় পোস্ট

  1. Buying a Solar Panel?
  2. Top 10 Solar Companies in India, 2022
  3. This festive season, Power Your Home with Solar Solutions in Just Rs. 7000/- EMI!
  4. Top Lithium Battery Manufacturers in World, 2022
  5. How to Install Rooftop Solar Panel on Loan?